उत्तराखंड

पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग द्वारा किया गया पुलिस लाइन रुद्रप्रयाग एवं अग्निशमन इकाई का वार्षिक निरीक्षण

रजत चौहान प्रधान सम्पादक

हरिद्वार की गूंज (24*7)
(रजत चौहान) उत्तराखंड। आज पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग आयुष अग्रवाल द्वारा पुलिस लाइन रतूड़ा का वार्षिक निरीक्षण किया गया। सर्वप्रथम पुलिस लाइन में लगी सलामी गार्द का अभिवादन स्वीकार किया गया। नियुक्त की गई सलामी गार्द के अच्छे टर्न आउट एवं ड्रिल की सराहना कर नगद पारितोषिक दिए जाने की घोषणा की गई। तत्पश्चात पुलिस लाइन की बैरकों का निरीक्षण किया गया, साफ-सफाई सही पाई गई। अनावश्यक रूप से डम्प की गयी कार्मिकों निजी सामग्री (बक्से इत्यादि) को सही ढंग से व्यवस्थित किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। पुलिस लाइन गणना कार्यालय, जीडी कार्यालय, कैश कार्यालय, शस्त्रागार, स्टोर इत्यादि का निरीक्षण किया गया। सभी शाखाओं में रखे रजिस्टर एवं अभिलेखों का निरीक्षण किया गया। कैश कार्यालय में शेष धन राशि का विवरण के बारे में जानकारी ली गई। शस्त्रागार में रखे आर्म-एम्युनिशन का निरीक्षण कर पुराने एम्युनिशन को सालाना फायरिंग में उपयोग में लाने हेतु निर्देशित किया गया। शस्त्रों की नियमित रूप से साफ-सफाई किए जाने हेतु निर्देशित किया गया।
स्टोर में रखी गई वर्दी वस्तु का नियमित रूप से वितरण किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। पुलिस लाइन से थानों को आवंटित की गई सरकारी संपत्ति का जी०पी लिस्ट से मिलान कर भौतिक निरीक्षण किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। पुरानी सामग्री की नियमानुसार नीलामी किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। आपदा प्रबन्धन उपकरणों को थानों की आवश्यकतानुसार आवंटित किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। पुलिस लाइन की समस्त शाखाओं के निरीक्षण के उपरान्त परिवहन शाखा का निरीक्षण किया गया। वाहनों के एवरेज की जानकारी ली गई, सभी वाहनों की मेंटिनेंस किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। जनपद में वर्तमान में उपलब्ध वाहनों के सापेक्ष वाहन चालकों का स्वीकृत नियतन बढ़ाए जाने हेतु पत्राचार किए जाने हेतु निर्देशित किया गया।
तत्पश्चात अग्निशमन इकाई का वार्षिक निरीक्षण किया गया। इकाई में उपलब्ध कार्मिकों की ड्यूटियों के सम्बन्ध में जानकारी ली गई। अग्निशमन उपकरणों एवं बड़े वाहनों के संचालन एवं उपयोग के सम्बन्ध में जानकारी ली गई। इकाई में रखे अभिलेखों की जानकारी ली गई। अभिलेखों को अपडेट किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। अग्निशमन स्टोर में रखे उपकरणों का उपयोग किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। प्रभारी अग्निशमन अधिकारी को निर्देशित किया गया कि थाना एवं कार्यालयों को आवंटित अग्निशमन उपकरणों की नियमित रूप से बदली की जाए। अग्निशमन इकाई के भवन में रह रही एसडीआरएफ कार्मिकों के व्यवस्थापन की जानकारी लेकर उनसे संवाद स्थापित किया गया तथा निर्देशित किया गया कि जनपदीय थानों से सम्बन्धित उपकरणों का निरीक्षण कर वहां पर नियुक्त कार्मिकों को आपदा सम्बन्धी व्यवहारिक प्रशिक्षण भी दिया जाए।
निरीक्षणों के उपरान्त पुलिस लाइन, परिवहन शाखा व अग्निशमन इकाई एवं एसडीआरएफ में तैनात सभी कार्मिकों का सम्मेलन लिया गया। इस अवसर पर निरीक्षण के दौरान पायी गई कमियों को सही किए जाने, पुलिस लाइन परिसर की नियमित साफ-सफाई किए जाने, शस्त्रों की सफाई किए जाने, परेड अभ्यास इत्यादि, प्राणायाम, योग, नियमित रूप से खेल इत्यादि खेले जाने हेतु निर्देशित किया गया। आज हुए वार्षिक निरीक्षण के अवसर पर पुलिस उपाधीक्षक रुद्रप्रयाग प्रबोध कुमार घिल्डियाल, पुलिस उपाधीक्षक विमल रावत, पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशन्स सुश्री हर्षवर्द्धनी सुमन, प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाइन गणेश लाल, प्रभारी आशुलिपिक नरेन्द्र सिंह, लाइन सूबेदार मनीष वर्मा, गणना मोहरिर अनूप सिंह, स्टोर मोहरिर बिच्छन सिंह, उपनिरीक्षक परिवहन नरेश लाल, अग्निशमन अधिकारी देवेन्द्र सिंह चौहान इत्यादि उपस्थित रहे।

Related Articles

error: Content is protected !!