हरिद्वार

21 अगस्त से होगा लाजपतराय मेहरा न्यूरोथेरेपी रिसर्च एंड ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट का राष्ट्रीय अधिवेशन

ऋषभ चौहान हरिद्वार जिला संवाददाता

हरिद्वार की गूंज (24*7)
(ऋषभ चौहान) हरिद्वार। लाजपतराय मेहरा न्यूरोथेरेपी रिसर्च एंड ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट का राष्ट्रीय अधिवेशन 21 अगस्त से हरिद्वार में शुरू होने जा रहा है। 23अगस्त तक चलने वाले तीन दिवसीय अधिवेशन में देश भर के 200 से ज्यादा डेलीगेट्स भाग लेंगे। संस्था के कोषाध्यक्ष सुमित महाजन ने जानकारी देते हुए बताया कि न्यूरोथैरेपी के जनक एवं एलएमएनटी के संस्थापक लाजपतराय मेहरा के 90 वें जन्मदिवस हरिद्वार में धूमधाम से मनाने की तैयारी चल रही है।‌ उसके जन्मदिवस के उपलक्ष्य में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी हरिद्वार के जम्मू यात्री भवन, भूपतवाला में तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन किया जाएगा।इस तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन लाजपतराय मेहरा नेचरोथेरेपी रिसर्च एंड ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में देशभर से 200 से ज्यादा डेलीगेट्स भाग लेंगे। जिसकी सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। जिसमें 15 जुलाई 2022 तक सभी डेलीगेट्स का रजिस्ट्रेशन किया जा चुका है। 200 से ज्यादा डेलीगेट्स ने आने की स्वीकृति दे दी है। आए हुए सभी न्यूरो थेरेपी स्टाफ को डॉक्टर सुनील जोशी वाइस चांसलर आयुर्वेदिक यूनिवर्सिटी देहरादून और डॉक्टर अवधेश पांडे रिसर्चर कंप्लीमेंट्री साइंसेज, डॉक्टर के०बाबू चाइल्ड स्पेशलिस्ट चंडीगढ़ के द्वारा मार्गदर्शन किया जाएगा। संस्था के महासचिव रामगोपाल परिहार ने कहा कि न्यूरोथेरेपी भारतीय प्राचीन वैदिक पद्धति है, जिसमें बिना दवा के हर एक बीमारी का सफल इलाज किया जाता है। इसके जन्मदाता डॉक्टर लाजपतराय मेहरा थे, जिन्होंने न्यूरोथेरेपी का आविष्कार किया था। वर्तमान में न्यूरोथेरेपी के पूरे देश भर में 15 सौ से अधिक उपचार के केंद्र चल रहे हैं। सुमित महाजन ने कहा कि 12वीं पास बेरोजगार बच्चों को प्रैक्टिकल न्यूरोथेरेपी की ट्रेनिंग देकर अपने पांव पर खड़ा किया जाता है। उन्होंने कहा कि कि अधिवेशन में उत्तराखंड प्रदेश के न्यूरो थेरेपिस्ट देव आहूजा, इशांत, बलराम शाह, नौशीन, मोहिनी मदान, आरती, संगीता विशेष रुप से कार्यक्रम की तैयारी के लिए उपस्थित रहेंगे।

Related Articles