हरिद्वार

एस०पी उत्तरकाशी ने की “उदयन” मुहिम की शुरुआत

एम०डी०एस उत्तरकाशी में जनजागरुकता शिविर आयोजित, छात्र-छात्राओं को नशे के दुष्प्रभाव व सामाजिक कुरीतियों के प्रति किया जागरुक

हरिद्वार की गूंज (24*7)
(शाहबाज सलमानी) हरिद्वार। जनपद उत्तरकाशी के युवा एवं तेजतर्रार पुलिस कप्तान अर्पण यदुवंशी द्वारा उत्तरकाशी के युवाओं व समाज को नशा, ट्रैफिक नियमों व अन्य सामाजिक कुरीतियों के प्रति जागरुक करने हेतु एक सराहनीय पहल शुरु करते हुए ‘उदयन’ मुहिम की शुरुआत की है, जो जागृत युवा, जागृत समाज व सशक्त राष्ट्र की परिकल्पना की थीम पर आधारित है। मुहिम के तहत उत्तरकाशी पुलिस द्वारा समय-समय पर स्कूल, कॉलेज, शिक्षण सस्थानों, गांव, मोहल्लों व अन्य प्रतिष्ठित स्थानों पर जनजागरुकता शिविर आयोजित कर स्कूली छात्राओं, युवाओं व समाज में व्यापक स्तर पर जनजागरुकता बढायी जायेगी, साथ ही नशे के आदी हो चुके युवाओं की कांउसलिंग कर उनको कैरियर के प्रति जागरुक किया जायेगा। जनपद उत्तरकाशी में ‘उदयन’ कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए सोमवार को पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी की अध्यक्षता मे उत्तरकाशी पुलिस द्वारा सोमवार को मसीह दिलासा स्कूल, तिलोथ उत्तरकाशी मे जनजागरुकता शिविर आयोजित कर छात्र-छात्राओं को नशे के दुष्प्रभाव, यातायात नियमों, साईबर, महिला अपराध व अन्य सामाजिक कुरीतियों के प्रति जागरुक किया गया। जनजारुकता शिविर का शुभारम्भ मुख्य अतिथि एस०पी उत्तरकाशी अर्पण यदुवंशी द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। छात्राओं द्वारा स्वागत गीत का प्रस्तुति देते हुये मुख्य अतिथि का स्वागत किया गया। कार्यक्रम के दौरान छात्र-छात्राओं की विभिन्न प्रतिस्पर्धायें सोशल मीडिया एक बरदान या अभिशाप पर डिबेट, नशामुक्त उत्तराखण्ड़ पर ड्राइंग, सिंगल यूज प्लास्टिक बैन पर ड्रइंग आदि प्रतियोगितायें आयोजित की गयी, साथ ही नशे के दुष्प्रभाव पर जनजागरुकता हेतु छात्र-छात्राओं द्वारा नुक्कड़ नाटक भी किया गया। एस०पी उत्तरकाशी सर द्वारा कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये छात्र-छात्राओं को बताया गया कि वर्तमान समाज में नशे का दुष्प्रचलन दिनोदिन लगातार बढता जा रहा आये दिन युवा नशे के चपेट मे आकर अपना जीवन बर्बाद कर दे रहे हैं। नशा व्यक्ति को शारीरिक व मानसिक दोनों रुप से आघात करता, नशे के चपेट मे आने से व्यक्ति अपना जीवन व भविष्य खत्म कर देता है इसलिये सभी को नशे के दुष्प्रभाव से दुर रहना चाहिये। अपना ध्यान अपने कैरियर पर फोकस करें। व्यायाम व खेल को अपनी दैनिक दिनचर्या मे लायें। अपने आस-पास के लोगों को भी नशे के दुष्प्रभाव के प्रति जागरुक करें। हमारे देश का युवा स्वस्थ एवं जागरुक रहेगा तभी देश तरक्की करेगा। कार्यक्रम मे सी०ओ उत्तरकाशी द्वारा सभी प्रतिभागी छात्र-छात्राओं द्वारा दी गयी प्रस्तुतियों व मंच संचलकों की सराहना करते हुये कार्यक्रम को आयोजित करने वाले सभी सदस्यों को बधाई दी गयी। उ०नि गीता प्रभारी महिला काउंसलिंग सेल द्वारा सभी को उत्तराखण्ड पुलिस एप्प के विभिन्न फीचर (गौराशक्ति, e-FIR, पुलिस सत्यापन, SOS आदि) के बारे मे विस्तृत जानकारी देकर जागरुक किया गया। कार्यक्रम में मंच का संचालन अमित सेन, जितेन्द्र प्रसाद नौटियाल, दमयंती भट्ट एवं टीना मैम द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अन्त में निर्णायक मण्डल द्वारा चुने गये विजेता प्रतिभागियों को पुरुस्कार वितरण समारोह में एस०पी उत्तरकाशी सर द्वारा सम्मानित किया गया। निर्णायक मण्डल प्रो० मधु थपलियाल, डॉ० एम०पी०एस परमार, प्रो० कैलाश, डॉ० मधु बहुगुणा, डॉ० गंगोत्री, डॉ० प्रीति बड़थ्वाल रहें। जनजागरुक्ता शिविर के दौरान मसीह दिलासा स्कूल के फादर जोसफ जोश प्रबन्धक, सिस्टर सौमिनी प्रिन्सीपल, प्रतिसार निरीक्षक जनक सिंह पंवार, निरीक्षक यातायात राजेन्द्र नाथ, निरीक्षक एलआईयू बृजमोहन गुसाईं, सम्मानित पत्रकार बन्धु, स्कूली छात्र-छात्रायें सहित अन्य स्कूल स्टाफ व पुलिस अधिकारी/कर्मचारी मौजूद रहे।

Related Articles

error: Content is protected !!