देहरादून

भारत व श्रीलंका के मैच पर करोड़ो का सट्टा लगाने वाले 8 लोगो को एसओजी व राजपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार

वेद प्रकाश चौहान मुख्य सह सम्पादक

हरिद्वार की गूंज (24*7)
(वेद प्रकाश चौहान) देहरादून। असम के गुवाहाटी में चल रहे है भारत व श्रीलंका के क्रिकेट मैच पर ऑनलाइन सट्टा लगाने वाले 8 लोगो को थाना राजपुर व एसओजी टीम द्वारा न्यू मसूरी रोड के मालसी पेट्रोल पंप के पास स्थित एक घर से गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए लोगो द्वारा जिस ऑनलाइन माध्यम से मैच पर सट्टा लगाया जा रहा था वह दिल्ली से ऑपरेट किया जा रहा था। पुलिस टीम ने सटोरियों के पास से लैपटॉप, टीवी, 21 मोबाइल फोन, एटीएम कार्ड, पासबुक, चेक बुक सहित अन्य इलेक्ट्रॉनिक वस्तुएं बरामद की है। जनपद में सक्रिय हर प्रकार के अपराधों के खिलाफ जनपद पुलिस टीम लगातार कार्यवाही कर रही है जिसमे थाना राजपुर पुलिस व एसओजी की संयुक्त टीम द्वारा आज राजपुर क्षेत्रांतर्गत गोवाहाटी में चल रहे भारत व श्रीलंका के क्रिकेट मैच पर करोड़ो का ऑनलाइन सत्ता खेलते एक गैंग के 8 युवकों को न्यू मसूरी रोड स्थित मालसी पेट्रोल पम्प के सामने अन्दर पुलिया पार करके स्थित एक घर से गिरफ्तार किया। पकड़े गए सभी सटोरी 38 से 20 वर्ष के है। पकड़े गए एक सटोरी उस्मान(22) निवासी मुजफ्फरनगर ने पुलिस को बताया कि यह सम्पूर्ण ऑनलाइन सट्टे का नेटवर्क दिल्ली से रोहित के नाम के व्यक्ति द्वारा संचालित किया जाता है और उसके द्वारा ही देहरादून में यह काम संचालित किया जाता है। उसने बताया कि टेलीग्राम एप्प का इस्तेमाल करने वाले लोगो के मोबाइल में उनके सिस्टम द्वारा पॉप अप भेजा जाता है, जैसे ही ग्राहक पॉप अप पर क्लिक करता है तो उसे एक नम्बर उपलब्ध होता है फिर ग्राहक उक्त नम्बर को वाटसअप से लिंक करके हम से सम्पर्क करता है। जहा से उनके द्वारा उस व्यक्ति का व्हट्सएप्प का डाटाबेस तैयार करते थे। उसने जानकारी देते हुए बताया कि उनके नेटवर्क की 6 गेम्बलिंग साईटे हैं, जिसमे ग्राहक इच्छानुसार चयन करता है,जिसके अनुसार वह ग्राहकों को व्हाट्सएप्प पर डिपाजिट स्लिप देते थे जिसमें बैंक की डिटेल दी जाती थी। पेमेन्ट साइट के बाद ही ग्राहक की आईडी जनरेट होती थी तथा पासवर्ड ग्राहक को उपलब्ध कराने के बाद ग्राहक गेम्बलिग साइट पर अपने गूगल क्रोम पर साइट खोलता है व सटटा लगाना शुरू करता है। जीतने की स्थिति मे वह जीता हुआ पैसा निकालने के लिए व्हट्सअप नम्बर पर सम्पर्क करता है व विदड्राल फार्म भरता है और हम उसके खाते मे जीतने की स्थिति मे रुपये जमा कराते है।

उसके अनुसार उसके अन्य साथी लैपटॉप व मोबाइल के माध्यम से सट्टे से जुड़े अलग अलग कार्य करते थे। पकड़े गए एक अन्य सटोरी दानिश,लक्ष्मण सोहैल,साकिब द्वारा फोन पर सटटा लगाने वाले ग्राहको से यू0पी0आई0 के माध्यम से पैसा लेने का कार्य किया जाता है। वहीं तनसीर सट्टे मे जीतने वाले ग्राहको के पैसे यू0पी0आई0 के माध्यम से उनके खाते मे विदड्राल करता हूँ। साहिद तथा मौ0 इस्तखार ने बताया कि वह दोनो लैपटॉप पर पैनल साइट व वाटसएप पर सम्पूर्ण कार्य करते है तथा आज बिग बैश लीग व भारत श्रीलंका मे हो रहे क्रिकेट मैच पर ऑनलाइन सटटा लगा रहे थे जिस दौरान वह गिरफ्तार हुए। पुलिस के अनुसार जिस वक्त गैंग को गिरफ्तार किया गया उक्त वक़्त तक उनके द्वारा लगभग 8 लाख रुपये का व्यव्साय किया जा चुका था।

एसएसपी देहरादून दलीप सिंह कुंवर के अनुसार लैपटॉप से प्राप्त जानकारी के अनुसार इनके द्वारा पिछले 01 माह में लगभग 15 लाख रूपये प्रतिदिन ऑनलाइन सट्टे के माध्यम से कमाया गया है, जोकि लगभग साढै करोड़ रूपये है । वर्तमान मे उपरोक्त गैंग से पूछताछ पर कुल 17 बैंक अकाउंट की जानकारी प्राप्त हुई है जिनको फ्रीज करने की कार्यवाही की जा रही है । एसएसपी द्वारा सटोरियों के बड़े नेटवर्क का खुलासा करने वाली टीम को 25 हज़ार रुपये ईनाम देने की घोषणा की है।

Related Articles

error: Content is protected !!